दमोह प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने मन्नू लाल के घर किया भोजन - bundelkhandvoice.com
bundelkhandvoice.com

दमोह प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने मन्नू लाल के घर किया भोजन

Nature
Listen to this article

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने दमोह में प्रबुद्धजनों से चर्चा की

नील कमल गार्डन सीएम

दमोह: मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान दमोह जिले के प्रवास के दौरान यहां के प्रबुद्धजनों से मिले। नीलकमल गार्डन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने दमोह जिले के विकास को लेकर प्रबुद्धजनों से चर्चा की। चर्चा में प्रबुद्धजनों ने दमोह के विकास के बारे में अपने सुझाव रखे। मुख्यमंत्री ने प्रबुद्धजनों को आश्वस्त किया कि दमोह जिला विकास के किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं रहेगा और पैसे की कमी नहीं रहने दी जायेगी। मीथेन गैस भण्डार मिलने से क्षेत्र की तस्वीर बदल जायेगी। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड पर्यटन की अच्छी संभावना है। इनका दोहन किया जायेगा।
इस अवसर पर केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद पटैल, नगरीय विकास मंत्री भूपेन्द्र सिंह, पीडब्यूक डी. मंत्री गोपाल भार्गव, सांसद एवं भाजपा प्रदेशअध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, पूर्वमंत्री श्री जयंत मलैया, रामकृष्ण कुसमरिया, मध्यप्रदेश वेयरहाउसिंग एवं लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन अध्यक्ष (कैबिनेट मंत्री दर्जा) राहुल सिंह विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी, पुरूषोत्तम लाल तंतुवाय, रामबाई गोविंद सिंह, प्रदुम्न लोधी, हरीशंकर खटीक, समाजसेवी प्रीतम सिंह लोधी, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी, सोना बाई, चिकित्सक साहित्यकार इंजीनियर, एडवोकेट, सामाजिक कार्यकर्ता, विभिन्न समाजों के अध्यक्ष और वरिष्ठ नागरिक मौजूद रहे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोनाकाल की आपदा को अवसर में बदल दिया है। उन्होंने आत्मनिर्भर भारत बनाने की बात कही है। आत्मनिर्भर भारत के लिए आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाया जायेगा। इसका रोडमेप तैयार कर लिया गया है और संकल्प के साथ इस दिशा कार्य किया जा रहा है। भौतिक अधोसंचरनाएं अच्छी सड़क, सिंचाई व्यवस्था, पेयजल, शिक्षा तथा अर्थव्यवस्था और रोजगार के लिए प्रतिद्धधता से कार्य किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि दमोह में आज मेडीकल कॉलेज की आधारशिला रखी जा रही है। दमोह की भूमि से प्रदेश के 20 लाख किसानों को खातों में 400 करोड़ की राशि हस्तातंरित की जायेगी। प्रदेश में कोरोना काल में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत 1 लाख 18 हजार करोड़ रूपये की राशि जनता के खातों में डाली गई। ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा की गुणवत्ता की सुधार के लिए 20-25 किलोमीटर की दायरे में सी.एम. राईज स्कूल खोले जायेंगे। तीन साल के भीतर दमोह जिले के प्रत्येक गांव और घर में नल की टौटी से शुद्ध जल मिलने लगेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कैन और बेतवा नदी बुन्देलखण्ड की जीवन रेखा है। कैन और बेतवा नदी पर बांध बनाने में आ रहे अवरोधों को दूर कर लिया गया है। नदियों को जोड़कर बांध बनाया जायेगा और बुन्देलखण्ड की भूमि को सिंचित किया जायेगा। इसमें दमोह जिले की अधिकांश जमीन सिंचित होगी। उन्होंने कहा कि चर्चा में रेल्वे के संबंध में सुझाव प्राप्त हुआ है। इसे प्रदेश सरकार प्रभावी ठंग से रखेगी। उन्होंने कुर्मी समाज के लिए भवन हेतु जमीन देने और सिन्धी समाज के लोगो को स्थाई पट्टे देने की बात भी कही।
कार्यक्रम को केन्द्रीय पर्यटन मंत्री श्री प्रहलाद पटैल ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र में तीन जिले दमोह, सागर और छतरपुर आते हैं। तीनों जिलों में मेडीकल कॉलेज की सुविधा होगी। दमोह ऐसा संसदीय क्षेत्र है जिसके प्रत्येक जिले में मेडीकल कॉलेज होगा।

दमोह प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री मन्नू लाल के घर किया भोजन

 

 

चुन्नी लाल के घर मुख्यमंत्री ने किया भोजन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने दमोह जिले के प्रवास के दौरान नगरीय क्षेत्र के सुभाष कॉलोनी वार्ड क्रमांक 6 में मन्नू लाल अहिरवार के निवास पर पहुंचकर दोपहर का भोजन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान का मन्नू के परिवार के सदस्यों द्वारा पुष्पगुच्छ एवं तिलक लगाकर स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री की अगुवाई के लिये परिवार ने घर को सजाया और स्वागत के लिये कलश भी सजा कर रखा था।
इस दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान श्री मन्नू लाल से उनके परिवार का हाल जाना। चर्चा के दौरान मन्नू लाल ने बताया कि उन्हें प्रदेश शासन द्वारा विभिन्न योजनाओं का लाभ उन्हें सहजता से मिला है। जिसमें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत उनके पक्के मकान का सपना पूर्ण हुआ है। इसके लिये उन्हें भवन निर्माण हेतु आवसीय पट्टा भी प्राप्त हुआ है। खाद्यान्न पात्रता पर्ची, श्रम कार्ड, बीपीएल कार्ड, पुत्र-पुत्रियों को शिक्षा के लिये छात्रवृत्ति, बिटिया अनीता को दिव्यांग पेंशन, एक बिटिया को कक्षा 9वीं में अध्ययन के दौरान साईकल भी प्राप्त हुई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बिटियों की चिन्ता कतई ना करें। प्रदेश सरकार हर संभव मदद करेगी। साथ ही बेटों को स्वरोजगार से जोड़ने का आग्रह मुन्नू लाल ने मुख्यमंत्री से किया । जिस पर त्वरित रूप से उन्होंने आस्वस्त करते हुए हर सम्भव सहयोग का भरोसा उन्होंने दिलाया।
श्री मन्नूलाल की धर्मपत्नि श्रीमती सविता ने बताया कि प्रदेश के मुखिया और भाई को अपने परिवार के बीच पाकर उन्हें काफी प्रसन्नता हो रही है। उन्होने आज अपनी पुत्री के साथ मिलकर दाल, चावल, सब्जी, कढ़ी, पापड़, कैथे की चटनी और खीर भी बड़े प्रेमभाव और उत्साह के साथ घर में बनाया है। परिवार जनों द्वारा बड़े ही आत्मीय एवं प्रेम भाव से भोजन परोसा गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि श्री मन्नूलाल के घर पर बने स्वादिष्ट भोजन को गृहण कर उनकी आत्मा तृप्त हो गई।
मन्नूलाल अहिरवार के परिवार में उसकी पत्नि के साथ दो बेटे रोहित और गौतम है। साथ ही तीन बिटियां विनीता, अनीता और साधना हैं, जिनमें से एक बेटी विनीता का विवाह हो चुका है। वहीं दोनों बेटे और दोनों बिटिया पढ़ाई कर रही हैं।
मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा परिवार को फल भेंट किये गये। परिवार के सदस्यों ने भी मुख्यमंत्री श्री चौहान को गणेश भगवान की प्रतिमा भेंट की।
इस अवसर पर केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री श्री प्रहलाद पटैल, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद संसदीय क्षेत्र खजुराहो श्री वी.डी. शर्मा, वेयर हाउसिंग एवं लॉजिस्टिक कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष राहुल सिंह, विधायक जबेरा श्री धमेन्द्र सिंह लोधी, भाजपा जिला अध्यक्ष श्री प्रीतम सिंह लोधी सहित जनप्रतिनिधी व अधिकारी उपस्थित थे।

Nature

Related posts

दमोह-जिले में पुलिस द्वारा वाहन चैकिंग दौरान की गई चालानी कार्यवाही

Bundelkhand Voice

मड़ियादो नय तहसील भवन के समीप पंचायत ने डंप किया कचरा

Bundelkhand Voice

गैसाबाद-आम के पेड़ से युवक ने लगाई फांसी, पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया फिलहाल मौत का कारण अज्ञात

Bundelkhand Voice

Leave a Comment


Designed by Reddy Infotech +91 7258040002

Ⓒ 2020 - Bundelkhand Voice. All Right Reserved.