यहां से करे नववर्षाभिनंदन, धार्मिक आस्था के साथ मौज मस्ती के खास स्थान - bundelkhandvoice.com
bundelkhandvoice.com

यहां से करे नववर्षाभिनंदन, धार्मिक आस्था के साथ मौज मस्ती के खास स्थान

Nature
Listen to this article
Yusuf Pathan
यूसुफ पठान दमोह(मध्यप्रदेश)-एक दिन बाद नया वर्ष प्रारंभ हो रहा है अगर आप भी नव वर्ष का अभिनंदन करने की कही सोच रहे हैं ,तो कुछ स्थान यहां भी है जहां कम खर्च कर पूरा आनंद उठाया जा सकता है। तो समय है आप को एक दिन क नव वर्ष को बेहतर बनाने हो जाए तैयार. जिला मुख्यालय से महज 100 किमी के अंदर तीन जिले दमोह,पन्ना और छतरपुर के धार्मिक व पर्यटक स्थल कर रहे है आप का इंतजार।

यहां जगल में है शिव मंदिर

कनोरा गांव जंगल के अंदर शिवमंदिर
झारखंडी का झरना-

जिला मुख्यालय से लगभग 55किमी दूरी पर बरी कनोरा गांव में जंगल के अंदर शिवमंदिर है यहां शाहगढ के राजा की प्रचीन गढिय़ा है, जिसमें उसका तहसीलदार रहा करता था हलॉकि अब वह जमीदोज हो चुकी है गढिय़ा के खंडहर ही शेष अपनी कहानी सुनाते हैं। यहां एक बारबीं शताब्दी का मढ़ा है। इस में शिव पार्वती की अनेक प्राचीन सुंदर मूर्तिया रखी है जो मढत्रे की मूर्तियों से भी अच्छी और पहले की बताई जा रही है यहां हटा दरगुवा हाईवे पर चलकर बरी गांव से लगभग दो किमी चलकर पहुंचा जा सकता है।

झारखंडी का झरना-

दमोह से 27 मील उत्तर में तथा हटा से 9 मील पर बसा है। पहले यह शाहगढ़ राज्य में था। यहा फतेहसिंह नामक शाहगढ़ राज्य का एक कर्मचारी रहता था,जिस कारण गांव का नाम फतेहपुर कहलाया। यहां इस गांव से चार मील उत्तर की ओर जटाशंकर में एक फतेहसिंह का किला भी है। जो 1943 ई.में बनवाया था अब यह किला बक्त के साथ जरजर अवस्था में पहुंच चुका है। निकट ही झारखंडी नामक सिद्ध स्थल जहां पानी की धार निरंतर गिरने से पत्थर पर जरारू जैसी आकृति निर्मित हो गई है यह भी पिकनिक का बेहतर स्पाट है।

पंडौन पर्यटक स्थल जिला पन्ना

इसके अलावा जिला मुख्यालय से लगभग 50 किमी हटा मडिय़ादो मार्ग पर सुनार नदी पर सतसूमा घाट भी आस्था के साथ पिकनिक का बेहतर स्थान है।
बफरजोन में पर्यटन स्थल
आगे चले तो मडिय़ादो से तीन किमी दूरी पर गौमुख स्थल है जो अब पर्यटक ईकों क्षेत्र में तब्दील हो चुका है यहां भी आस्था और पिकनिक का पूरा आनंद उठाया जा सकता है। बफरक्षेत्र अंतर्गत यहां से लगभग 50किमी ओर चले तो पंडोन गांव जो पन्ना जिले में है यहां पांच नदियों का संगम है यहां भी इस समय पिकनिक को बेहतर स्पाट है।
जिला मुख्यालय से लगभग 100किमी दूरी पर जटाशंकर धाम,मौना सैया,जोगीदंण जैसी अनेक धार्मिक एंव पर्यटक स्थल आप का इंतजार कर रहे हैं।

Nature

Related posts

जबेरा विधायक धर्मेंद्र सिंह ने विधानसभा में मुख्यमंत्री से पूंछा अब तक क्यों नहीं बना रोड

Bundelkhand Voice

छेड़छाड़ की हुई शिकायत तो पुलिस की दहशत में आरोपी ने कर ली आत्महत्या

Bundelkhand Voice

दमोह-बस स्टैंड पर भड़की आग से सात बसे जल कर ख़ाक आग लगने का कारण अज्ञात,पुलिस आगजनी की जांच में जुटी

Bundelkhand Voice

Leave a Comment


Designed by Reddy Infotech +91 7258040002

Ⓒ 2020 - Bundelkhand Voice. All Right Reserved.